History of Bundelkhand Ponds And Water Management - बुन्देलखण्ड के तालाबों एवं जल प्रबन्धन का इतिहास : शिवपुरी जिले के तालाब (Ponds of Shivpuri)

History of Bundelkhand Ponds And Water Management - बुन्देलखण्ड के तालाबों एवं जल प्रबन्धन का इतिहास

शिवपुरी जिले के तालाब (Ponds of Shivpuri)


बुन्देलखण्ड जनपद के दक्षिणी-पश्चिमी पार्श्व में शिवपुरी जिला है। यह जिला भी पहाड़ी, पथरीला एवं वनाच्छादित जंगली भूभाग वाला है जिसका धरातलीय ढाल उत्तर-पूर्व दिशा को है, जिस कारण इसका बरसाती धरातलीय जल उत्तर की ओर प्रवाहित होकर महुअर, कुँवारी, काली सिंध, पहूज एवं सिन्ध नदियों द्वारा जिला से बाहर चला जाता रहा है। ककरीली, पथरली, पठारी एवं रांकड़ भूमि पर जिले में अनेक सुन्दर दर्शनीय सरोवर बने हुए हैं, जो बुन्देला प्रतिहार शासनकालीन हैं। सिंचाई विभाग शिवपुरी संभाग के अभिलेखानुसार जिलान्तर्गत तिरासी (83) तालाबों से सिंचाई की जाती है। जिले के वह बड़े तालाब हैं जो दर्शनीय भी हैं।

शिवपुरी परिक्षेत्र के तालाब

1. गोविन्द सागर (Govind sagar)- यह सुन्दर तालाब है। पर्यटकों के आकर्षण का केन्द्र है। हनुमान मन्दिर भी समीप में है।

2. चाँद पाठा सरोवर(Chand Patha Sarovar)- यह बड़ा तालाब है। इसके जल का उपयोग शिवपुरी के नगर निवासियों के पीने हेतु किया जाता है।

3. बूढ़ी बरौद(Budhi Baraud)- यह बड़ा तालाब है जिसका भराव क्षेत्र 243 हेक्टेयर का है।

4. बाँस खेड़ी तालाब(Bans Khedi Pond)58 हेक्टेयर का तालाब है जो जननिस्तारी है, कुछ जल कृषि सिंचाई को भी देता है।

5. बेंहट तालाब(Benhat Pond) छोटा तालाब है जो 41 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का है।

6. सतैरिया तालाब(Satairiya Pond) 247 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का है। इससे सिंचाई होती है।

7. रायचन्द खेड़ी(Raichand Khedi) सुन्दर तालाब है जो 118 हेक्टेयर के भराव क्षेत्र का है।

8. भगौरा तालाब(Bhagaura Pond) बहुत बड़ा सुन्दर तालाब है जो 706 हेक्टेयर के भराव क्षेत्र का है। इससे सिंचाई की जाती है।

9. सिंगनवास तालाब(Singanvas Pond) 118 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का है।

 10. मोहनगढ़ का तालाब(Pond of Mohangarh) 41 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का सुन्दर तालाब है।

11. माधौ लेक(Madhao lake)- यह सुन्दर सरोवर है जो 120 हेक्टेयर के भराव क्षेत्र का है।

12. डुमधना तालाब(Dumdhana Pond)- यह सरोवर 530 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का है। इससे काफी सिंचाई की जाती है।

13. नारही तालाब(Narahi Pond)- यह 68 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का छोटा तालाब है।

14. राजगढ़ तालाब(Rajgadh Pond)- यह 161 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का है।

15. सिर सौदक्र(Sir Saudakra). 2 तालाब 93 हेक्टेयर का है।

16. टौड़ा पिछोर का तालाब(Pond of Dauda Pichhor) 49 हेक्टेयर का है।

17. खौंड चक्र तालाब(khauda Chakra Pond) 121 हेक्टेयर का है।

18. पड़ोरा तालाब(Padora Pond) 63 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का है।

19. खौंड चक्र(Khaud Chankra) 2 तालाब 45 हेक्टेयर का है।

20. बीरा तालाब(Beera Pond) 60 हेक्टेयर का है।

21. छपौरा तालाब(Chhapaura Pond)- यह बड़ा तालाब है। इसका भराव क्षेत्र 1195 हेक्टेयर का है। इससे भारी भूमि सींची जाती है। 

करैरा परिक्षेत्र के तालाब

22. बैरखेड़ा तालाब(bairkheda Pond) 189 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का है। इससे काफी कृषि भूमि कि सिंचाई की जाती है।

23. गधाई तालाब(Gadhai Pond) छोटा तालाब है, जो 41 हेक्टेयर का है।

24. भेव तालाब(Bhev Pond) 81 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का है।

25. रमगढ़ा तालाब(Ramgadha Pond) 90 हेक्टेयर के विस्तार में है। इससे कृषि सिंचाई की जाती है।

26. कड़ोरा ताल इमलिया(Kadora tal Imiliya)- यह छोटा तालाब है, जो 56 हेक्टेयर का है।

27. बरसोंड़ी तालाब(barsondi Pond) 104 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का है।

28. शेरगढ़ तालाब(Shergarh Pond) छोटा तालाब है, जो 41 हेक्टेयर विस्तार में है।

29. झंडा तालाब(Jhanda Pond) 31 हेक्टेयर का है।

30. फतैपुर करैरा तालाब(Fataipur Karaira Pond) 81 हेक्टेयर का है। इससे सिंचाई की जाती है।

31. डिंगवास तालाब(Dingwas Pond) 87 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का है।

32. गोपालिया तालाब(Gopaliya Pond) सुन्दर तालाब है। यह 98 हेक्टेयर का है।

33. सरखड़पुर तालाब(Sarakhadpur Pond) 41 हेक्टेयर का छोटा तालाब है।

34. आण्डैर तालाब(Andair Pond) बड़ा तालाब है। इससे काफी सिंचाई की जाती है। इसका भराव क्षेत्र 473 हेक्टेयर का है।

35. अलगी तालाब(Algi Pond) सुन्दर मनोरम तालाब है, जो 61 हेक्टेयर का है।

36. खिरिया पुनावली तालाब(Khiriya Punawali Pond) बड़ा तालाब है, जो 371 हेक्टेयर विस्तार में है।

37. दिनारा तालाब(Dinara Pond)- दिनारा तालाब 702 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का विशाल तालाब है। बाँध पर निर्मित मन्दिर-देवालयों से यहाँ धार्मिक आयोजन होते रहते हैं। इस तालाब से हजारों एकड़ कृषि सिंचाई को पानी दिया जाता है।

करैरा-नरवर परिक्षेत्र मध्य युग में ओरछा के महाराज वीरसिंह देव के अधिकार में थे, जिन्होंने करैरा का किला और दिनारा का तालाब बनवाया था। अलगी का तालाब भी वीरसिंह देव (1605-27 ई.) के समय बना था। दिनारा कस्बा एवं तालाब (देव सागर) झाँसी-करैरा बस मार्ग पर स्थित है।

ओरछा नरेश महाराजा वीरसिंह देव बुन्देला (सन 1605-27) की दुर्गों, महलों एवं तालाबों के स्थापत्य निर्माण में विशेष रुचि थी। उन्होंने अन्य स्थापत्यों एवं तालाबों के अतिरिक्त अपने नाम वीर-सिंह-देव शब्दों पर आधारित तीन विशाल सुन्दर सरोवरों-वीर सागर ग्राम वीर सागर (पृथ्वीपुर), सिंह सागर कुड़ार एवं देवसागर (दिनारा) का निर्माण कराया था।

देव सागर दिनारा का तालाब महाराजा वीरसिंह देव ने सन 1618 ई. में, उनके मांडलिक कन्हरदास की देखरेख में बनवाया था जिसका प्रमाण तालाब का निम्नांकित शिलालेख है-

“गहिरवार कासीपुरा, वीरसिंह के राज।
पंडित कन्हरदास सह फुरमाये सो काज।।
रजधानी जहाँगीरपुर, प्रजा सुषी सुष साज।
जागि धर्म सुभ कर्म सब, होत नृपत के राज।।
सोरा सै पचहत्तरा, माघ पुष्य रविवार।
हिन्दू तुरक जूउथ पै, ताहि तलाक हजार।।

महाराजा वीरसिंह देव ने देव सागर सरोवर के निर्माण के साथ ही तालाब के वाम पार्श्व की पहाड़ी पर सुन्दर कोठी भी बनवाई थी, जो आज भी दर्शनीय खड़ी हुई है। देव सागर दिनारा तालाब दर्शनीय मनोरम सरोवर है।

38. सैमरा तालाब(Saimara Pond)- यह 121 हेक्टेयर के भराव क्षेत्र का है। इससे कृषि सिंचाई को पानी दिया जाता है।

39. चिन्नोद का तालाब(Pond of Chinnod)- यह 214 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का है। इससे कृषि सिंचाई की जाती है। 

पिछोर क्षेत्र के तालाब

40. फतेहपुर पिछोर तालाब(Fatehpur Pichhor Pond)- यह 55 हेक्टेयर का तालाब है।

41. पारौंच तालाब(Paraunch Pond)- यह 2145 हेक्टेयर का विशाल तालाब है। इससे नहरों द्वारा दूर-दूर तक सिंचाई की जाती है।

42. फूटीवार तालाब(Footiwar Pond)- यह 729 हेक्टेयर का बड़ा तालाब है। इससे नहरों द्वारा दूर-दूर तक सिंचाई की जाती है।

43. नागदा गजौरा तालाब(Nagda Gajaura Pond)- यह 865 हेक्टेयर का विशाल सरोवर है। इसकी नहरों से दूर-दूर तक सिंचाई होती है।

44. झालौनी तालाब(Jhalauni Pond)- यह 994 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का विशाल तालाब है। इससे निकली नहरों द्वारा दूर-दूर तक कृषि सिंचाई के लिये पानी दिया जाता है।

45. कछौआ तालाब(Kachhaua Pond)- यह 100 हेक्टेयर का मनोरम तालाब है।

46. दरगुवां तालाब(Darguwan Pond)- यह 20 हेक्टेयर का छोटा तालाब है।

47. भीतरगुवां तालाब(Bheetargunwan Pond) - यह 45 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का सुन्दर तालाब है।

48. बमना तालाब(Bamna Pond)- यह 20 हेक्टेयर भराव वाला छोटा तालाब है।

49. जराया तालाब(Jaraya Pond)- यह 40 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का सुन्दर तालाब है। इससे थोड़ी-सी सिंचाई भी की जाती है।

50. मुहारी तालाब(Muhari Pond)- मुहारी का तालाब 202 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का सुन्दर तालाब है। इससे कृषि भूमि की सिंचाई की जाती है।

51. गूड़र तालाब(Goodar Pond)- यह छोटा तालाब है जो मात्र 36 हेक्टेयर का है।

52. देवखी तालाब(Dewakhi Pond)- यह 65 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का तालाब है जिससे कृषि भूमि की सिंचाई होती है।

53. बिजरावन तालाब(Bijrawan Pond)- बिजरावन का तालाब भी 65 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का तालाब है।

54. हरथौन तालाब(Harthaun Pond)- यह 138 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का सुन्दर तालाब है। जिससे कृषि भूमि सींची जाती है।

55. चमरौआ तालाब(Chamrauwa Pond)- यह 134 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का तालाब है जिससे कृषि भूमि की सिंचाई की जाती है।

पोहरी परिक्षेत्र के तालाब

56. पिपलौदा तालाब(Piplauda Pond)- यह क्षेत्र का बड़ा तालाब है जो 891 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का है। इससे नहरों द्वारा दूर-दूर तक कृषि सिंचाई को पानी दिया जाता है।

57. बैराड़ तालाब(Bairad Pond)- बैराड़ तालाब क्षेत्र का दूसरा बड़ा तालाब है। यह 723 हेक्टेयर का तालाब है। इससे दूर-दूर तक सिंचाई होती है।

58. सैंवढ़ा तालाब(Saivadha Pond)- यह 432 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का तालाब है।

59. मूंजपार तालाब(Moonjpar Pond)- यह बड़ा तालाब है जो 551 हेक्टेयर का है जिससे दूर-दूर तक सिंचाई की जाती है।

60. पाड़र खेड़ा तालाब(Padarkheda Pond)- यह 358 हेक्टेयर भराव क्षेत्र का तालाब है। इससे दूर-दूर तक कृषि सिंचाई को जल दिया जाता है।

61. इमलिया तालाब(Imiliya Pond)- यह 242 हेक्टेयर का तालाब है। इससे कृषि भूमि की सिंचाई को जल दिया जाता है।

62. भैंसरावन तालाब(Bhaisrawan Pond)- यह 190 हेक्टेयर भराव का तालाब है।

63. रिंग डौली तालाब(Ring Dauli Pond)- यह छोटा तालाब है जो 41 हेक्टेयर भराव का है।

64. भटनावर तालाब(Bhatnawar Pond)- यह मात्र 41 हेक्टेयर का छोटा तालाब है। 

65. टोरा तालाब(Tora Pond)- यह 174 हेक्टेयर का बड़ा तालाब है।

66. पिपर धार तालाब(Pipardhar Pond)- यह 85 हेक्टेयर का तालाब है।

67. लैंगड़ा तालाब(Laingada Pond)- यह 57 हेक्टेयर का छोटा तालाब है। इनके अतिरिक्त दो पिकवियर लैंगड़ा में हैं।

68. खूबत पिकअप वियर(Khoobat pickup Weir)- यह 115 हेक्टेयर का तालाब है।

69. भानगढ़ पिकअप वियर(Bhangarh pickup Weir)- यह 72 हेक्टेयर भराव का तालाब है।

कोलारस क्षेत्र के तालाब

70. अकासिटी तालाब(Akacity Pond)- यह बड़ा तालाब है जो 1437 हेक्टेयर का है। इससे क्षेत्र के कई ग्रामों की भूमि की सिंचाई होती है।

71. भाधव सरोवर तालाब(Bhadhav Sarovar Pond)- यह बड़ा तालाब है जो 1011 हेक्टेयर भराव का है। इससे सिंचाई की जाती है।

72. कूँड़ा तालाब(Kunda Pond)- यह 567 हेक्टेयर भराव का बड़ा तालाब है।

73. राम नगर तालाब(Ramnagar Pond)- यह 45 हेक्टेयर का तालाब है।

74. बामौर बुजुर्ग तालाब(Bamaur Bujurg Pond)- यह 42 हेक्टेयर का तालाब है।

इन तालाबों के अतिरिक्त कोलारस परिक्षेत्र में एनवारा उद्वहन, सांखनोर उद्वहन, सैसई स्टॉपडैम शिवपुरी परिक्षेत्र में डबिया गोविन्द, बुधना, शीर पिकअप वियर, करई स्टॉपडैम तथा पिसनारी की टौरिया (कोलारस), कूंडा पाड़ौन (कोलाराम) एवं परागढ़ (कोलारस) अच्छे जल संसाधन हैं।

 

Courtesy:  डॉ. काशीप्रसाद त्रिपाठी

>>Click Here for Main Page 

comments powered by Disqus